Guru to his student – दृष्टा ही दृश्य का निर्माण करके उसे सत्य मानता है । दृश्य सत्य नहीं है ।

अब तुम्हारी शिक्षा सामप्त हुई, तुम ब्रहमज्ञानी हो ।

Student – यह सब आपका आशीर्वाद है। अब मे इस प्राप्त ज्ञान से दुनिया जीत लूगा, संसार मे आपकी कीर्ति को फेला दूगा ।

Guru – मुर्ख , जाओ ग्रहस्थ बन जाओ और परिवार पालो ।

#Vedanta

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here